देहरादून। असम की रहने वाली महिला का एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। जमीला खातून से पूजा शर्मा बनी महिला ने कई मुस्लिम युवकों को अपने जाल में फंसाया। इसके बाद धर्म परिवर्तन का आरोप लगाते हुए उनसे रुपयों की मांग की। रुपये न देने वालों के विरुद्ध दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज करवा दिया। बिजनौर में पकड़े जाने के बाद उसकी हकीकत सामने आई तो दून पुलिस के कान भी खड़े हो गए। महिला ने दो मुकदमे देहरादून के पटेलनगर कोतवाली में भी दर्ज करवाए हैं। हालांकि मामले कोर्ट में विचाराधीन हैं। ऐसे में पुलिस इन मामलों में विधिक राय ले रही है।

जमीला उर्फ पूजा शर्मा ने दून में पहला मुकदमा अक्तूबर 2019 को दर्ज कराया था। उसके आरोप के आधार पर सोनू राजपूत उर्फ जहीर अहमद निवासी पटेलनगर के खिलाफ दुष्कर्म और गर्भपात कराने का मुकदमा दर्ज हुआ था। आरोप था कि उसकी दोस्ती सोनू से हुई थी। करीब छह महीने तक वह उसके साथ रही और इस दौरान सोनू ने उसके साथ दुष्कर्म किया। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर आरोपी को न्यायालय में पेश किया, जिसके बाद उसे जेल भेज दिया गया। आरोप है कि इसके बाद जमीला ने उसे ब्लैकमेल कर पैसों की मांग भी की थी। इसी तरह इस साल जमीला की शिकायत पर 18 जनवरी को भी एक मुकदमा दर्ज हुआ। इस मुकदमे में उसने नौशाद कुरैशी नाम के युवक पर आरोप लगाए। बताया था कि वह नौशाद के साथ डेढ़ साल तक रही।

उसने दुष्कर्म किया और उसके पिता जाहिर कुरैशी और शहनवाज कुरैशी ने उसके साथ मारपीट की। इस आधार पर भी पुलिस ने तीनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था। दोनों मुकदमों में पुलिस चार्जशीट दाखिल की जा चुकी और मुकदमे न्यायालय में विचाराधीन हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here