गजब: DRDO का 45 लाख कीमत ‘चिनूक हेलीकॉप्टर’ हुआ चोरी, अधिकारियों ने साधी चुप्पी

  • लखनऊ के डिफेंस एक्‍सपो में लगाया गया लड़ाकू हेलिकॉप्‍टर गायब हो गया
  • स्क्रैप से बना चिनूक हेलिकॉप्टर का हू-ब-हू मॉडल लगाया गया था
  • 65 किलो वजनी इस हेलिकॉप्‍टर के निर्माण में 45 लाख का खर्चा आया था

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ से एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है, जिसने चारों तरफ हड़कंप मचा दिया है। दरअसल में पूरा मामला डिफेंस एक्सपो से जुड़ा हुआ है। जो वृंदावन योजना में 10 फरवरी 2020 को आयोजित हुआ था। इसमें डिफेंस रिसर्च एंड डिवेलपमेंट ऑर्गेनाइजेशन (DRDO) में बना एक लड़ाकू हेलिकॉप्टर (चिनूक) डिस्प्ले किया गया था। यह हेलिकॉप्टर गायब हो गया है। हेलिकॉप्टर चोरी हो गया या कहां गया इसका जवाब नगर निगम के जिम्मेदार अधिकारियों के पास नहीं हैं।

बता दे कि इसकी देखभाल की जिम्मेदारी नगर निगम के पास थी लेकिन फरवरी 2023 में आयोजित जी-20 समिट के कार्यक्रम इस मैदान पर होने की बात आई तो निगम ने हेलिकॉप्टर का पिलर कमजोर होने और इलाके में वीआईपी मूवमेंट का हवाला देते हुए इसे हटा लिया। इसके बाद हेलिकॉप्टर का क्या हुआ किसी को पता नहीं। हेलिकॉप्टर गायब होने की लिखित शिकायत अप्रैल 2023 में नगर विकास विभाग के संयुक्त सचिव कल्याण बनर्जी से की गई लेकिन इस पर कोई ठोस कार्यवाही नही हो सकी और निगम के जिम्मेदार एक दूसरे पर इसकी जिम्मेदारी डालते रहे।

गायब हुए चिनूक के बारे में जब शिकायत के बाद संयुक्त सचिव कल्याण बनर्जी ने लखनऊ नगर निगम के अफसरों से पूछा कि हेलिकॉप्टर कहां गया। उस वक्त नगर निगम जोन-8 के जोनल सेनेटरी अफसर राजेश झा ने लिखित जवाब दिया कि हेलिकॉप्टर गोमती नगर स्थित निगम के रबिश एंड रिमूवेबल (RR) कार्यशाला में मरम्मत के लिए भेजा गया है। हालांकि मौजूदा RR चीफ मनोज प्रभात का कहना है कि ऐसा कोई भी हेलिकॉप्टर कार्यशाला में नहीं आया न ही पूर्व में इसकी कोई एंट्री है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here