देहरादून। उत्तराखंड में इन दिनों भारी बारिश के बीच बीमारियां भी बढ़ गई हैं। बाढ़ और जलभराव के बीच अब डेंगू के मरीजों की संख्या भी बढ़ गई है। पिछले दो दिन की रिपोर्ट के मुताबिक जिले में डेंगू के 38 नए मरीज मिले हैं। इन सभी को अस्पतालों में भर्ती किया गया है। बुधवार को जनपद में डेंगू के 30 नए मामले मिले।

इनमें से 16 लोग श्री महंत इंदिरेश अस्पताल में भर्ती हैं। इसके अलावा छह-छह लोग कैलाश अस्पताल व कोरोनेशन अस्पताल में और दो का उपचार दून मेडिकल कॉलेज चिकित्सालय में चल रहा है। इस सीजन में अभी तक डेंगू के 240 मामले मिल चुके हैं। जिनमें से 183 मरीज स्वस्थ हो गए हैं। वर्तमान में डेंगू के 56 सक्रिय मरीज हैं। चिंताजनक बात यह है कि जिले में डेंगू के सभी मरीजों को अस्पतालों में भर्ती कराना पड़ रहा है, इसके कारण ज्यादातर अस्पतालों में बेड फुल हैं वहीं प्लेटलेट्स की भी मांग बढ़ गई है।

बता दें कि जिले में सबसे अधिक मरीज अजबपुर कला और धर्मपुर में मिल रहे हैं। इसके अलावा रेस कोर्स, जीएमएस रोड, पटेल नगर, कार्गी, बंजारावाला, सिंगल मंडी, पथरी बाग, देहराखास, मोथरोवाला, त्यागी रोग, आढत बाजार, करनपुर, बड़ोवाला, मुस्लिम कालोनी लक्खी बाग, चुक्कूवाला, माजरा, ऋषिकेश में भी डेंगू मरीज मिलने के बाद हाई अलर्ट जारी किया गया है। वहीं सरकारी अस्पताल में सिर्फ दून अस्पताल में ही प्लेटलेट्स नौ हजार रुपये में मिल रही हैं। इसके अलावा सरकारी किसी अस्पताल में प्लेटलेट्स उपलब्ध नहीं हैं। निजी ब्लड बैंक में इसके लिए 12000 खर्च करने पड़ रहे हैं। हालांकि आयुष्मान कार्ड होने पर प्लेटलेट्स की सुविधा निशुल्क उपलब्ध है।

विभागीय अधिकारी का कहना हैं कि डेंगू की रोकथाम के लिए हर स्तर पर कार्रवाई की जा रही है। टीमें क्षेत्रों में जाकर लोगों को जागरूक कर रही हैं और सोर्स रिडक्शन भी। जिन स्थानों पर डेंगू का लार्वा मिल रहा है उसे मौके पर ही नष्ट किया जा रहा है। लोगों से निरंतर अपील की जा रही है कि वह अपने घर व आसपास के क्षेत्रों में स्वच्छता बनाए रखें। खाली बर्तनों में पानी एकत्र नहीं होने दें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here