देहरादून। एसटीएफ ने देहरादून से संचालित हो रही अंतरराष्ट्रीय साइबर ठगी के मामले का खुलासा किया है। इस मामले में दो लोगों को हिरासत में भी लिया गया है। एसटीएफ एसएसपी अजय सिंह ने बताया कि आरोपियों के पास से कुछ गैजेट्स भी मिले हैं। शुरुआती जांच में अमेरिका के ऑपरेटरों की भागीदारी का भी पता चला है। मामले में जांच जारी है।
साइबर ठगों ने देहरादून की एक महिला का बैंक खाता खाली कर दिया। इसका पता उन्हें तब चला जब वह खाते से रकम निकालने पहुंचीं। महिला ने साइबर थाने को शिकायत की। प्राथमिक जांच के बाद नेहरू कॉलोनी पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है। मिली जानकारी के अनुसार उमा देवी निवासी हरिपुर नवादा साइबर थाने पहुंची थीं। उन्होंने बताया कि उनका बचत खाता एसबीआई की आईआईपी शाखा में है। उन्होंने जब रकम निकालने के लिए विड्रॉल फार्म भरा तो पता चला कि उनका खाते में कोई रकम नहीं है। यह सुनकर उनके होश उड़ गए।
उनके खाते में लगभग 85 हजार रुपये जमा थे। बैंक से जब उन्होंने डिटेल ली तो पता चला कि 22 दिसंबर 2020 से 27 जनवरी 2021 के बीच अलग-अलग ट्रांजेक्शन में उनके खाते से 84400 रुपये निकाले गए हैं। इनका उनके पास रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर कोई मैसेज भी नहीं आया। नेहरू कॉलोनी थाने के इंस्पेक्टर ने बताया कि साइबर थाने से जीरो एफआईआर आने के बाद आईटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here