देहरादून। सरकार ने होमगार्डों को बड़ी जिम्मेदारी देने की तैयारी की है। इसके तहत, सभी प्रदेशीय हेलिपैडों की सुरक्षा के लिए होमगार्डों की तैनाती की जा रही है। आईजी-कमांडेंट जनरल होमगार्ड ने सभी जिला कमांडेंट से नौ-नौ होमगार्डों की नामांकन की अपील की है। सूची मिलने के बाद होमगार्डों की हेलिपैड पर तैनाती की जाएगी।

होमगार्डों के लिए नई पहल:- प्रदेश में लगातार होमगार्डों के लिए नई पहल शुरू करने के साथ ही नई सुविधाओं से भी लैस किया जा रहा है। हाल ही में सूबे के महिला और पुरुष होमगार्डों को पिस्तौल से लेकर एसएलआर चलाने का प्रशिक्षण दिया गया है। इससे इतर, होमगार्डों के ऊपर अब तक वीआईपी, वीवीआई, अपराध और यातायात की कमान संभालने की जिम्मेदारी थी लेकिन अब होमगार्डों को एक और बड़ी जिम्मेदारी देने की तैयारी की जा रही है। जल्द ही होमगार्डों के हाथों में प्रदेश के सभी 13 हेलिपैड की सुरक्षा की कमान होगी। शासन की ओर से हर होमगार्ड विभाग से नौ-नौ होमगार्डों के नाम की सूची मांगी गई है। सूची में वही होमगार्ड शामिल होंगे जिन्होंने एसएलआर की ट्रेनिंग ली हुई है। इनमें महिला और पुरुष होमगार्ड शामिल होंगे। सूची में भेजे जाने वाले नामों पर आईजी केवल खुराना की मुहर लगते ही होमगार्डों की हेलीपैड पर ड्यूटी लगाई जाएगी।

13 में से छह हेलिपैड वर्तमान में संचालित:- प्रदेश में अलग-अलग स्थानों पर 13 हेलिपैड बने हुए हैं। इनमें से केवल छह ही हेलिपैड संचालित हैं। अन्य सात हेलिपैड को बनाने का काम प्रगतिशील है। फिलहाल छह हेलिपैड पर ही तैनाती की जाएगी। जब अन्य हेलिपैड बनकर पूरी तैयार हो जाएंगे। तब इन पर भी तैनाती होगी। शासन की ओर से हेलिपैड की सुरक्षा के लिए होमगार्डों की ड्यूटी लगाने की बाबत कहा गया है। इसके लिए कितना खर्च आएगा, यह भी जानकारी मांगी गई है। विभाग की ओर से सभी जिलों से नौ-नौ होमगार्डों की सूची मांगी गई है। सूची मिलने के बाद इन होमगार्डों की ड्यूटी निर्धारित की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here