हल्द्वानी। कारोबारी अंकित की हत्या का मामला बीते कई दिनों से सुर्खियों में छाया हुआ है। अंकित हत्या के मामले के मुख्य आरोपी माही और दीप कांडपाल को रविवार को पुलिस ने गिरफ्तार लिया है। जिसके बाद माही ने अंकित के मर्डर को लेकर बड़ा खुलासा किया है। माही ने बताया कि अंकित को बेहोश कर नहीं बल्कि उसके होश में होने पर ही मारा था। अंकित की प्रेमिका माही ने पूछताछ में खुलासा किया है कि अंकित को बेहोशी की हालत में नहीं मारा गया था। बल्कि उसे जबरन पकड़कर उस पर कंबल डालकर उसे सांप से डसवाया गया था। माही ने बताया कि सांप से डसवाने से पहले अंकित को पांच लोगों ने उसके ऊपर कंबल डालकर दबोच लिया था।

जिसके बाद उसे नीचे गिरा दिया गया। इसके बाद दो लोग अंकित के ऊपर बैठ गए। जबकि दो लोगों ने हाथ और एक ने पैर पकड़ा। जिसके बाद धीर-धीरे अंकित का दम घुटने लगा। जब वो अधमरा हो गया तो उसे सांप से डसवाया गया। जिसके बाद आधे घंटे के बाद अंकित के शरीर में दोबारा हरकत हुई तो उसे फिर से सांप से डसवाया गया। इस तरह अंकित की मौत हो गई।

एसएसपी पंकज भट्ट ने बताया कि अब सिर्फ नौकरानी ऊषा और उसके पति राम औतार को गिरफ्तार किया जाना है। ऊषा मूलरूप से बंगाल की रहने वाली है। वह अपने पति और दोनों बच्चों के साथ बरेली से ट्रेन में बिहार की ओर निकली है। बरेली में सीसीटीवी फुटेज में इसकी पुष्टि भी हुई है। पुलिस की एक टीम इनके पीछे भी निकल गई। जल्द ही इन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here