सना। यमन की राजधानी सना में बुधवार देर रात रमजान महीने में वित्तीय सहायता वितरित करने के लिए आयोजित एक कार्यक्रम में भगदड़ मच गई। ईद से पहले इस आयोजन में वित्तीय सहायता प्राप्त करने के लिए भारी संख्या में लोग जुटे थे। वहीं इस कार्यक्रम में भगदड़ मचने से 85 लोगों की मौत हो गई और 300 से ज्यादा लोग घायल हो गए। मंत्रालय ने बताया कि यह इवेंट वहां के व्यापारियों ने स्थानीय प्रशासन की मदद के बिना आयोजित किया था। इसमें बड़ी संख्या में गरीब लोग शामिल हुए थे।

हूती ने मृतकों के परिवारों को 2,000 डॉलर और घायलों को लगभग 400 डॉलर मुआवजा देने की घोषणा की है। यमन के आंतरिक मंत्रालय के प्रवक्ता ब्रिगेडियर अब्देल-खलीक अल-अघरी ने कहा कि स्थानीय अधिकारियों के साथ समन्वय के बिना गलत तरीके से वित्तीय सहायता वितरित करने के कारण यह घटना हुई। सहायता वितरण कार्यक्रम एक स्कूल में आयोजित किया गया था। घटना के बाद विद्रोहियों ने स्कूल को सील कर दिया।

चश्मदीदों ने बताया कि भीड़ को नियंत्रित करने के लिए हथियारबंद हूती विद्रोहियों ने हवा में गोली चलाई और बिजली के तार से टकराकर उसमें विस्फोट हो गया। इससे कार्यक्रम में मौजूद लोगों में दहशत फैल गई और लोगों ने भागना शुरू कर दिया। आंतरिक मंत्रालय ने कहा कि उसने दो आयोजकों को हिरासत में लिया है और मामले की जांच चल रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here