देहरादून। जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 पर आए सुप्रीम कोर्ट के फैसले का उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने स्वागत किया है। कहा, सुप्रीम कोर्ट ने इस देश के एक और कटु प्रसंग का सर्व स्वीकार्य समाधान निकाला है, इसके लिए कोर्ट को धन्यवाद दिया जाना चाहिए।

हरदा ने कहा- थैंक्यू सुप्रीम कोर्ट! एक और कटु प्रसंग का सर्व स्वीकार्य समाधान निकला। धारा 370 जिस समय लागू की गई, उस समय भूल नहीं एक ऐतिहासिक आवश्यकता थी। पाकिस्तान के आक्रामक रवैये और कुछ वैश्विक शक्तियों के षड़यंत्र का मुकाबला करने के लिए कश्मीर की जनता को विश्वास में लेने के लिए धारा 370 लागू की गई। समय के साथ हर सरकार ने धारा 370 के प्राविधानों को हल्का किया। अब समय आ गया था माननीय सुप्रीम कोर्ट ने एक सर्व स्वीकार्य समाधान निकाल दिया।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता हरीश रावत ने आगे कहा हमारा मानना है कि अब धारा 370 का प्रसंग अंतिम रूप से समाप्त हो गया है। POK (Pakistan Occupied Kashmir) एक अंतिम काटा है और संसद का संकल्प भी है कि पीओके भारत का हिस्सा है।

हरदा ने कहा- आज मौका है, पाकिस्तान सातवें, आठवें, नौवें दशक का पाकिस्तान नहीं है, आज आर्थिक रूप से विपन्न, टूटा हुआ, बंटा हुआ पाकिस्तान है। पीओके में भी असंतोष है। इस कांटे को भी सरकार निकाले, देश साथ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here