आपत्तिजनक फेसबुक पोस्ट पर बेंगलुरु में बवाल

सुनियोजित साजिश या…

  • पुलिस फायरिंग में 3 उपद्रवियों की मौत, 60 पुलिसकर्मी जख्मी
  • दो इलाकों में कर्फ्यू, आरोपी समेत 110 से ज्यादा लोग गिरफ्तार

बेंगलुरु। यहां मंगलवार की रात एक आपत्तिजनक फेसबुक पोस्ट को लेकर बवाल हो गया। हजारों उपद्रवियों ने एक पुलिस स्टेशन को आग के हवाले कर दिया। हालात को काबू करने के लिए पुलिस को फायरिंग करनी पड़ी। इसमें तीन लोगों की मौत हो गई। दो लोगों ने देर रात ही दम तोड़ दिया। वहीं एक व्यक्ति की इलाज के दौरान आज बुधवार सुबह मौत हो गई। इस हिंसा में 60 से ज्यादा पुलिसकर्मी जख्मी हो गए। हिंसा शहर के डीजे हल्ली और केजी हल्ली इलाके में हुई। यहां कर्फ्यू लगा दिया गया है और पूरे बेंगलुरु में धारा 144 लगाई गई है। अब तक 110 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। डीजे हल्‍ली पुलिस स्टेशन में उपद्रवी करीब एक घंटे तक तोड़फोड़ करते रहे।

पुलिस का कहना है कि कुछ लोग विवादित पोस्ट के मामले में शिकायत दर्ज कराने थाने पहुंचे थे। पुलिस ने उन्हें आपसी सुलह से विवाद निपटाने की सलाह दे दी। यह बात उन्हें रास नहीं आई और वे नारेबाजी करने लगे। देखते ही देखते पत्थरबाजी शुरू हो गई। इसके बाद भीड़ ने थाने और विधायक के घर तोड़फोड़ और आगजनी की। हिंसा में 250 से ज्यादा वाहनों को नुकसान पहुंचा है।
आरोप है कि कांग्रेस के विधायक श्रीनिवास मूर्ति के भतीजे नवीन ने पैंगबर मोहम्मद को लेकर एक आपत्तिजनक पोस्ट की। इससे मुस्लिम समुदाय नाराज हो गया। कमिश्नर कमल कांत ने बताया कि आरोपी नवीन को गिरफ्तार कर लिया गया है। कर्नाटक के गृह मंत्री बसवराज बोम्‍मई ने कहा कि हिंसाग्रस्त इलाकों में अतिरिक्त बल तैनात किया गया है। उपद्रवियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

हिंसा के दौरान यहां 20 गाड़ियों को नुकसान पहुंचा। कांग्रेस विधायक के घर के घर पर तोड़फोड़ और बाहर आगजनी की गई। गाड़ियों में आग लगा दी गई। विधायक ने लोगों से हिंसा न करने की अपील की। उन्होंने वीडियो संदेश में कहा, ‘मैं लोगों से अपील करता हूं कि कुछ उपद्रवियों की गलतियों के चलते हमें हिंसा में शामिल नहीं होना चाहिए।’
उधर कांग्रेस विधायक के भतीजे ने इस मामले में सफाई पेश की है। उसने कहा कि उसका फेसबुक अकाउंट हैक हो गया था। उसने किसी भी धर्म को लेकर कोई टिप्पणी नहीं की है। विधायक मूर्ति ने भी भतीजे के बचाव में बयान जारी किया।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here