IBM और AIF ने मेधावी छात्राओं को दिया ड्रोन और सैटेलाइट बनाने का प्रशिक्षण

देहरादून। आईबीएम ने अपने कार्यान्वयन भागीदार द अमेरिकन इंडिया फाउंडेशन के साथ मिलकर अपने स्टेम फॉर गर्ल्स इंडिया (एसएफजीआई) प्रोग्राम के तहत इनोवेशन प्रोजेक्ट लॉन्च किया है। इस प्रोजेक्ट का लक्ष्य स्टूडेंट्स को स्ट्रीम विषयों से जुड़ने के लिए प्रोत्साहित करना है। इनोवेशन प्रोजेक्ट के तहत आईबीएम और एआईएफ (अमेरिकन इंडिया फाउंडेशन) ने उत्तराखंड की 30 मेधावी छात्राओं को पीआईसीओ सैटेलाइट और ड्रोन विकसित करने का व्यवहारिक प्रशिक्षण दिया। इस आयोजन का उद्घाटन समय शिक्षा अभियान, उत्तराखण्ड के स्टेट प्रोजेक्ट डायरेक्टर (एसपीडी) बंशीधर तिवारी ने किया। इस आयोजन में स्टूडेंट्स ने ड्रोन्स, सिम्युलेशन और डिजाइन सॉफ्टवेयर को असेंबल किया और उनका इस्तेमाल पीआईसीओ सैटेलाइट्स को लॉन्च करने में किया। इन सैटेलाइट्स का इस्तेमाल पृथ्वी के वातावरण के विभिन्न मापदंडों के अवलोकन में होगा। जैसे वायु की गति, यूवी किरणें, जीपीएस, दाब और तापमान। चयनित स्टूडेंट्स ने प्रशिक्षण के वर्चुअल सत्रों में भाग लिया। तीन दिन के ओरिएंटेशन प्रोग्राम में उत्तराखण्ड के 5214 स्टूडेंट्स ने भाग लिया। जिसके बाद ट्रेनिंग प्रोग्राम में हिस्सा लेने के लिये 135 स्टूडेंट्स का चयन हुआ।

यह प्रोजेक्ट निम्न उद्देश्यों को ध्यान में रखकर डिजाइन किया गया ।

  • स्ट्रीम विषयों और स्पेस टेक्नोलॉजी में उच्च शिक्षा के लिये आकांक्षा को बढ़ावा देना।
  • सैटेलाइट्स, ड्रोन्स और स्पेस टेक्नोलॉजी पर ज्ञान देना।
  • सैटेलाइट्स और ड्रोन्स को असेंबल करने का व्यावहारिक अनुभव देना।
  • स्ट्रीम में करियर पर जागरूकता निर्मित करना और आत्मविश्वास तथा समस्या सुलझाने की कुशलता विकसित करना।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here