उत्तराखंड: माँ के सामने ढाई साल के बच्चे को आंगन से उठा ले गया गुलदार…

श्रीनगर। प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में लगातार बाघ और गुलदार के आतंक थमने का नाम नहीं ले रहा है। श्रीनगर में एक बार फिर गुलदार की बढ़ती धमक से लोगों में दहशत है। यहां शुक्रवार देर रात्रि एक ढाई साल के बच्चे पर घात लगाए गुलदार ने हमला कर दिया। गुलदार बच्चे को घर के आंगन से मुंह में दबाकर उठा ले गया।

जानकारी के अनुसार, ढाई साल का सूरज पुत्र हरिद्वारी लाल निवासी फरीदपुर थाना फरीदपुर बरेली उत्तर प्रदेश, अपने डांग ऐठाणा बुगाणी रोड पर किराए के कमरे के बाहर खेल रहा था। तभी रात्रि 8 बजकर 30 मिनट के आसपास घात लगाए बैठे गुलदार ने सूरज पर हमला कर दिया। गुलदार सूरज को अपने मुंह में दबाकर जंगल की ओर भाग गया। सूरज के चीखने की आवाज सुनकर परिजन बाहर निकले। जब तक वो कुछ कर पाते गुलदार तब तक सूरज को ले जा चुका था।

परिजनों की चीख पुकार सुनकर आसपास के लोग भी घर में जमा हो गए। लोगों ने घटना के सम्बंध में वन विभाग और पुलिस को जानकारी दी। रात भर चलाये गए सर्च ऑपरेशन के दौरान बच्चे का पता नहीं चला। आज सुबह सूरज का शव झाड़ियों से बरामद किया गया। सूरज अपनी तीन बहनों का एक भाई था। घटना के बाद से सूरज की मां की हालात खराब है। वहीं पूरा परिवार सदमे में है। वन क्षेत्राधिकारी नागदेव रेंज ने बताया कि परिजनों को अभी 1 लाख 80 हज़ार रुपये की राहत राशि दे दी गयी है। इलाके में एक पिंजरा लगा दिया गया है। 2 पिंजरे लगाने की कार्रवाई गतिमान है। इसके साथ ही ट्रैप कैमरे भी इलाके में लगाये जा रहे हैं। जल्द हमलावर गुलदार को पकड़ लिया जाएगा।

बता दें कि अभी तीन माह पहले ही बुघाणी रोड पर एक बच्चे को गुलदार ने निवाला बनाया था। जबकि एक माह पहले श्रीकोट में भी एक बच्ची पर गुलदार ने हमला कर उसे बुरी तरह घायल कर दिया था। जिसका इलाज एम्स ऋषिकेश से चल रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here