रुद्रप्रयाग। उत्तराखंड के कई क्षेत्रों में इन दिनों गुलदारों का आतंक है। वहीं रुद्रप्रयाग के बच्छणस्यूं क्षेत्र के खल्यां गांव में बुधवार देर शाम अपने घर के आंगन में खेल रहे 4 वर्षीय बालक आदर्श राणा पुत्र त्रिलोक राणा पर घात लगाए बैठे गुलदार ने अचानक हमला कर दिया। बच्चे के सिर, पैर और हाथ पर गहरे जख्म हैं। इस दौरान ग्रामीणों के द्वारा शोर किए जाने पर गुलदार भाग खड़ा हुआ। परंतु इस घटना से ग्रामीणों में दहशत का माहौल है।

सदस्य जिला पंचायत नरेंद्र बिष्ट ने बताया कि उक्त बालक को घायल अवस्था में जिला चिकित्सालय रुद्रप्रयाग में लाया गया। चिकित्सकों द्वारा उसका इलाज किया गया। प्राथमिक उपचार के बाद बालक को छुट्टी दे दी गई। ग्रामीणों द्वारा ये मांग की गई है कि वन विभाग गुलदार को पकड़ने हेतु पिंजरा लगाए, ताकि भविष्य में ऐसी घटना की पुनरावृत्ति न हो।

बता दें 71 प्रतिशत से अधिक वन क्षेत्र वाले पर्वतीय जिलों में पिछले कुछ समय में गुलदार की दहशत बढ़ गई है। गुलदार घात लगाकर पालतू पशुओं, महिलाओं और बच्चों पर हमला कर रहा है। गुलदार की दहशत के चलते लोग अपने घरों पर दुबकने को मजबूर हैं। कई बच्चे इस वजह से स्कूल भी नहीं जा पा रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here