उत्तराखंड : बिल्डर बनकर करोड़ों का चूना लगाने वाले चार आरोपी गिरफ्तार

देहरादून। राजधानी दून पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। पुलिस ने लोगों और बैंकों के करोड़ों रुपए हड़पने वाले चार लोगों को गिरफ्तार किया है, जो पंजाब में छिप कर बैठे हुए थे। पुलिस अभी आरोपियों का आपराधिक इतिहास खंगाल रही है।

आरोपियों के खिलाफ देहरादून जिले के अलग-अलग थानों में कई मुकदमे दर्ज हैं। पुलिस ने बताया कि एसए बिल्डटेक कंपनी के फाउंडर प्रेमदत्त शर्मा ने अपने सहयोगियों सुनीता शर्मा, आराधना शर्मा, अरुण सेगन और गौरव आहूजा के साथ मिलकर एक प्लान बनाया था। जिसके तहत देहरादून के राजपुर थाना क्षेत्र में मसूरी रोड पर मालसी में आर्टिगो रेजीडेंसी के नाम से बहुमंजिला आवासीय परिसर में फ्लैट बेचने के नाम पर लोगों से करोड़ों रुपए का निवेश करवाया गया। इस पूरे खेल की पोल तब खुली जब लोगों को न तो फ्लैट की दिया गया और न ही मकान की रजिस्ट्री की गई।

आरोप है कि प्रोजेक्ट के तहत अलग-अलग लोगों को फ्लैट देने के एवज में बिल्डर का एसबीआई बैंक से एक त्रिपक्षीय अनुबंध हुआ था। इसमें चार अलग-अलग खरीदारों के नाम से बैंक लोन एप्रूव कराकर धनराशि को अपने खातों में लेने के बाद फ्लैटों के सेल लेटर किसी अन्य के नाम पर सम्पादित करते हुए बैंक की कुल एक करोड़ बीस लाख पचास हजार रुपए की धनराशि हड़प ली। इसी तरह आरोपी ने आईसीआईसीआई बैंक के साथ भी धोखाधड़ी की। वहां भी आरोपी ने राजपुर क्षेत्र में साल 2014 में आर्टिगो अपार्टमेंट के नाम से प्रोजेक्ट शुरू करने और लोगों से प्रोजेक्ट में निवेश करने की एवज में उन्हें फ्लैट उपलब्ध कराने से सम्बन्धित एग्रीमेंट किये। आईसीआईसीआई बैंक के माध्यम से लोगों के नाम पर फ्लैट के एवज में लोन पास करवाते हुए धनराशि को अपने खातों में प्राप्त किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here