देहरादून। पिथौरागढ़ में आज शुक्रवार तड़के भूकंप के झटके महसूस किये गए। समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार रिक्टर पैमाने पर इस भूकंप की तीव्रता 2.6 रही। भूकंप अलसुबह 3.10 बजे आया।
कुछ समय पहले वैज्ञानिकों ने हिमालय क्षेत्र में बड़े भूकंप की आशंका व्यक्त की थी और कहा था कि हिमालय पर्वत शृंखला में सिलसिलेवार भूकंपों के साथ बड़ा भूकंप कभी भी आ सकता है। इसकी तीव्रता रिक्टर पैमाने पर आठ या उससे भी अधिक हो सकती है। वैज्ञानिकों का दावा है कि हिमालय के आसपास घनी आबादी वाले देशों में इससे भारी तबाही मच सकती है। हालांकि ये भूकंप कब आएंगे, इसका सटीक अनुमान फिलहाल नहीं लगाया जा सका है। वैज्ञानिकों का मानना है कि अगले 100 साल में इनके आने की आशंका है। 
कोलकाता स्थित भारतीय विज्ञान शिक्षा एवं अनुसंधान संस्थान में पृथ्वी विज्ञान विभाग की प्रो. सुप्रिया मित्रा भी इस शोध को सही मान रही हैं। प्रो. मित्रा के मुताबिक पहले हुए कुछ शोध भी इस ओर इशारा कर चुके हैं। हालांकि ऐसा भीषण भूकंप कब आएगा, इसके बारे में कोई सटीक अनुमान लगाना अभी नामुमकिन ही है। शोध के मुताबिक भूकंप इतने भीषण होंगे कि हिमालय क्षेत्र के दक्षिण में स्थित राजधानी दिल्ली में भी तगड़े झटके महसूस होंगे। ‘उत्तर भारत में बीते छह महीनों में कई हल्के भूकंप आए हैं जो हिमालय क्षेत्र में बड़े भूकंप की आशंका को आधार देते हैं। वैज्ञानिकों की मानें तो ऐसे कई छोटे भूकंप बड़ी तबाही का संकेत होते हैं।
गौरतलब है कि बीते मंगलवार को सुबह हरिद्वार में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। भूकंप का केंद्र बहादराबाद ब्लॉक के औरंगाबाद क्षेत्र का डालूवाला कलां गांव था। भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 4.0 मापी गई, हालांकि उससे कोई नुकसान नहीं हुआ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here