कोरोना के इलाज में जुटे अस्पतालों को प्रोत्साहन के रूप में देंगे 50 लाख : त्रिवेंद्र

  • मुख्यमंत्री ने कहा, हमारे फ्रंटलाइन कोरोना वारियर हैं चिकित्सक व स्वास्थ्यकर्मी,  इनकी सुरक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता

देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने घोषणा की है कि जिस कोविड अस्पताल में कोरोना वारियर स्वयं को संक्रमण से बचाते हुए कोविड-19 से संक्रमित लोगों का इलाज कर रहे हैं, उस अस्पताल को 50 लाख रूपए की प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। वैसे तो सभी अस्पतालों में कोरोना वारियरों को मानकों के अनुरूप संक्रमण से बचने के लिए आवश्यक सुरक्षात्मक उपकरण उपलब्ध करवाए जा रहे हैं, फिर भी अस्पताल अपने यहां कार्यरत चिकित्साकर्मियों और स्वास्थ्यकर्मियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए और प्रेरित होंगे। इससे कोरोना के खिलाफ लड़ाई में अग्रिम पंक्ति में डटे हमारे चिकित्सकों और स्वास्थ्य कर्मियों का भी मनोबल बढ़ेगा। राज्य सरकार अपने हर कोरोना वारियरों के साथ है।

त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि कोविड अस्पतालों में हर तरह की सावधानी रखी जाए। चिकित्सक व स्वास्थ्यकर्मी हमारे फ्रंटलाईन कोरोना वारियर हैं। इनकी संक्रमण से सुरक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता से लिया जाए। हमारे चिकित्सक और स्वास्थ्यकर्मी, कोविड-19 से संक्रमित व्यक्तियों का इलाज तभी कर सकते हैं जब वे स्वयं सुरक्षित रहें। हमारे कोरोना वारियर स्वयं के जीवन को खतरे में डालते हुए पूरी निष्ठा और तत्परता से अपने दायित्वों का निर्वहन कर रहे हैं। हमें अपने इन वारियरों पर गर्व है। हमारा भी दायित्व है कि ये स्वस्थ रहें और सुरक्षित रहें। इनके लिए कार्यस्थल पर समुचित सुरक्षागत उपकरण की व्यवस्था सुनिश्चित हो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here