देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शनिवार को राजपुर रोड स्थित एक होटल में दिसंबर में प्रदेश में प्रस्तावित ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट-2023 का लोगो और वेबसाइट लॉन्च की। इस दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि इन्वेस्टर्स समिट राज्य के लिए बेहतर अवसर है। इस मौके पर मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि सरकार राज्य में निवेश को बढ़ावा देने के लिए प्रतिबद्ध होकर काम कर रही है। उद्यमियों के हितों का पूरा ख्याल रखा जायेगा। यह इन्वेस्टर्स समिट पूरे प्रदेश एवं सभी विभागों के लिए महत्वपूर्ण है। यह एक बड़ा अवसर है। आपको इसका भरपूर फायदा उठाना है।

उन्होंने कहा कि इसके लिए देहरादून में वार्ता की गयी और 21 अगस्त को दिल्ली में उद्योग समूह से बेहतर माहौल में वार्ता की गयी। उत्तराखंड में निवेश को लेकर उद्योग जगत में रुचि है। उद्योग समूह में हर कोई ब्रांड एंबेसडर है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में लोग निवेश और नये निवेशकों के लिये तैयार हैं। उद्योग समूह उद्योग विस्तार के लिए तैयार है। प्रदेश में ऐसे 15 से 20 हजार निवेश के लिए उद्योग तैयार हैं। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड राज्य के साथ देश के विकास में भी योगदान देगा। हर क्षेत्र में उत्तराखंड का नाम पहले नंबर पर आ रहा है। राज्य में हर जगह जगहें हैं। राज्य में 06 हजार एकड़ का भूमि बैंक बनाया गया है।

उन्होंने कहा कि 2018 इन्वेस्टर्स समिट का अनुभव लिया जा रहा है। इस बार हमारा लक्ष्य दोहरा है। प्रदेश में निवेश के लिए ठोस तरीके से काम करना होगा। प्रधानमंत्री के बयान के मुताबिक, उत्तराखंड को 21वीं सदी में अग्रणी राज्यों में से एक बनाने के लिए काम करना है। गौरतलब है कि धामी सरकार ने दिसंबर में प्रस्तावित ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट के लिए 2.5 लाख करोड़ रुपये के निवेश का लक्ष्य रखा है। इन्वेस्टर्स समिट को लेकर देहरादून से लेकर दिल्ली तक लगातार बैठकों का दौर जारी है।

इस अवसर पर विधायक दुर्गेश्वर लाल, मुख्य सचिव एसएस संधू, अपर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी, सचिव शैलेश बगोली, विनय शंकर पांडे, बंशीधर तिवारी आदि उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here