दिल्ली से कोटद्वार आ रहे कोरोना संदिग्ध युवक ने कार में ही दम तोड़ा

कोरोना का कहर

  • रास्ते में तबीयत खराब होने से कोटद्वार बेस अस्पताल लाये, जहां डाक्टरों ने उसे घोषित किया मृत  
  • उसे दिल्ली से लेकर आ रहे कार चालक को भी बेस अस्पताल के आईसोलेशन वार्ड में किया भर्ती

कोटद्वार। दिल्ली से कार बुक कराकर कोटद्वार के दुगड्डा ब्लाक स्थित धूराधनाई गांव लौट रहे कोरोना संदिग्ध युवक की आज बुधवार सुबह रास्ते में तबीयत खराब हो गई। गंभीर हालत में उसे कोटद्वार बेस अस्पताल लाया गया, जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। डॉक्टरों ने उसका पोस्टमार्टम किया और कोरोना सैंपल लेने के बाद उसका अंतिम संस्कार कर दिया है। उसे लेकर आ रहे कार चालक को बेस अस्पताल के आईसोलेशन वार्ड में भर्ती कर दिया गया है।
एसआई भावना भट्ट ने उसकी पत्नी के हवाले से बताया कि दुगड्डा ब्लाक के ग्राम पंचायत धूराधनाई निवासी भगवान सिंह (25) पुत्र दयाल सिंह दिल्ली के एक होटल में नौकरी करता था। लॉकडाउन के कारण वह होटल में ही फंसा हुआ था। दो जून को उसने अपनी पत्नी सावित्री देवी को फोन कर उसे जुकाम, खांसी और बुखार होने की बात कही थी। जिस पर पत्नी ने उसे कार बुक कर गांव लौटने को कहा।
इसके बाद उसने अपने परिचित एक कार चालक से संपर्क किया और आज बुधवार सुबह वह कार से दिल्ली से कोटद्वार के लिए निकल पड़े। कार चालक ने बताया कि भगवान सिंह की मेरठ के पास तबीयत खराब होनी शुरू हो गई थी, जिससे वह कार में ही लेट गए थे। कार चालक ने कौड़िया चेक पोस्ट पर पुलिस और मेडिकल टीम को उसकी हालत की जानकारी दी। रेड जोन से संबंधित मामला होने के बाद पुलिस ने उन्हें सीधे बेस अस्पताल भेज दिया।
बेस अस्पताल कोटद्वार के पीएस डा. बीसी काला ने मामले की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि दिल्ली से एक कोरोना संदिग्ध युवक मृत अवस्था में कोटद्वार बेस अस्पताल में पहुंचा था। कोरोना प्रोटोकॉल के तहत उसकी जांच और पोस्टमार्टम कराया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here