दुःखद: यमुनोत्री यात्रा पर आए दो श्रद्धालुओं की हार्ट अटैक से मौत

उत्तरकाशी। उत्तराखंड चारधाम यात्रा का आगाज हो चुका है. केदारनाथ, गंगोत्री, यमुनोत्री धाम के कपाट 10 मई को खुल चुके हैं। जबकि बदरीनाथ धाम के कपाट 12 मई को खोले जाएंगे। यात्रा के आगाज के साथ ही यमुनोत्री में श्रद्धालुओं के तबीयत बिगड़ने संबंधी सिलसिला भी शुरू हो चुका है। यमुनोत्री यात्रा पर आए पहले दिन ही दो श्रद्धालुओं की हार्ट अटैक आने से मौत हो गई।

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक, शुक्रवार की शाम को अलग अलग स्थानों पर हार्ट अटैक से श्रद्धालुओं की मौत हो गई। मध्यप्रदेश के सागर जिले के रामगोपाल (71) और उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले की विमला देवी (69 ) की मौत हुई है। एसएचओ संतोष सिंह कुंवर ने इसकी पुष्टि की है। केदारनाथ और यमुनोत्री धाम की पैदल यात्रा के दौरान कई बार ऑक्सीजन की कमी और ठंड के कारण तीर्थयात्रियों की तबीयत बिगड़ जाती है। जिस कारण मेडिकल डिजिज से गुजर रहे श्रद्धालुओं को अक्सर मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। बता दें कि साल 2023 में भी यमुनोत्री धाम के पैदल मार्ग पर 31 तीर्थ यात्रियों की हृदय गति रुकने से मौत हो गई थी।

केदारनाथ, गंगोत्री व यमुनोत्री धाम के कपाट खुलने के साथ ही चारधाम यात्रा का आगाज हो गया। शुक्रवार को हजारों की संख्या में पहुंचे श्रद्धालुओं के जयकारों के बीच तीनों धाम के कपाट विधि विधान के साथ खोले गए। पहले दिन करीब 45 हजार श्रद्धालुओं ने दर्शन किए। केदारनाथ धाम में 30 हजार श्रद्धालुओं ने दर्शन कर नया रिकॉर्ड बनाया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here