दिल्ली हाईकोर्ट ने मोदी सरकार को फिर दिखाया आईना!

  • केंद्र से कहा- पूरा देश ऑक्सीजन के लिए रो रहा; आप IIT और IIM को मैनेजमेंट दे दीजिए, वो आपसे बेहतर कर लेंगे

नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी समेत पूरे देश में ऑक्सीजन संकट को लेकर दिल्ली हाईकोर्ट ने फिर से सख्ती दिखाई है। हाईकोर्ट ने आज मंगलवार को फिर मोदी सरकार से कहा, ‘पूरे देश में लोग ऑक्सीजन के लिए रो रहे हैं। लोगों की जानें जा रहीं हैं। कैसे आप इतने असंवेदनशील हो सकते हैं? ये लोगों के इमोशन से जुड़ा हुआ मामला है। लोगों की जान खतरे में है। इस पर आप आंखें मूंद सकते हैं, लेकिन हम नहीं।’
कोर्ट ने मोदी सरकार से कहा कि अगर आप ऑक्सीजन सप्लाई का मैनेजमेंट IIT और IIM को दे दें तो वे इसे बेहतर तरीके से संभाल लेंगे। इसमें IIM के एक्सपर्ट्स और ब्रिलियंट माइंड वाले लोगों को जोड़ना चाहिए। कोर्ट ने ये बातें दिल्ली के मायाराम हॉस्पिटल की तरफ से दायर पिटीशन पर सुनवाई करते हुए कहीं।
हाईकोर्ट को एमिकस क्यूरी ने बताया कि महाराष्ट्र में ऑक्सीजन की डिमांड अभी कम है। ऐसे में वहां भेजी जा रही सप्लाई में कटौती कर दिल्ली को दी जा सकती है। क्यूरी ने ये भी कहा कि ऑक्सीजन को स्टोर किया जा सकता है। जिससे आपात स्थिति में किसी की जान न जाए। वहीं कोर्ट ने मोदी सरकार को फटकार लगाते हुए कहा कि दिल्ली को 700 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की सप्लाई देने के लिए कहा गया है। हर हाल में ये सप्लाई होनी चाहिए।
इस मामले में शनिवार को हुई सुनवाई के दौरान हाईकोर्ट ने सख्त टिप्पणी करते हुए कहा था कि पानी अब सिर से ऊपर चला गया है। अब हमें काम से मतलब है। अब आपको (केंद्र सरकार) हर चीज की व्यवस्था करनी होगी। हाईकोर्ट ने केंद्र को निर्देश दिया था कि किसी भी हाल में दिल्ली को 490 MT ऑक्सीजन पहुंचनी चाहिए। अगर इसका पालन नहीं किया गया तो अदालत अवमानना की कार्रवाई कर सकती है।
इससे पहले शुक्रवार को भी हाईकोर्ट ने तल्ख टिप्प्णी करते हुए कहा था कि सरकार पूरी फेल साबित हई है। देश संक्रमण में बहुत बड़ी तेजी का गवाह बन रहा है। इसने पूरे मेडिकल सिस्टम पर असर डाला है। किसी ने कल्पना भी नहीं की थी कि ये हम पर इस तरह से हमला करेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here