सूर्य ग्रहण : 21 जून की दोपहर छा जाएगा अंधेरा!

कुदरत के खेल

  • शनिवार रात 10 बजकर 22 मिनट पर शुरू होगा सूतक, पूजा-पाठ करना रहेगा वर्जित  
  • रविवार सुबह 10 बजकर 24 मिनट पर शुरू सूर्य ग्रहण दोपहर 01 बजकर 48 मिनट बजे तक रहेगा  

देहरादून। आगामी 21 जून को पड़ने वाले सूर्य ग्रहण खास होगा क्योंकि भरी दोपहरी में अंधेरा छा जाएगा।ग्रहण का सूतक काल एक दिन पहले शनिवार की रात से लगेगा। सूर्यग्रहण स्पर्श से 12 घंटे पहले यानी रात 10 बजकर 22 मिनट पर सूतक काल शुरू हो जाएगा। इस काल में मंदिरों के कपाट बंद रहेंगे और कोई शुभ कार्य नहीं किया जा सकेगा।
इस बाबत श्री टपकेश्वर महादेव मंदिर (गढ़ी कैंट) के महंत कृष्ण गिरि महाराज ने कहा कि इस सूर्य ग्रहण पर चंद्रमा सूर्य के करीब 99 फीसद भाग को ढक लेगा। इससे दोपहर को अंधेरा छा जाएगा। सूतक शनिवार रात 10 बजकर 22 मिनट से शुरू होगा। यह काल शुभ नहीं माना जाता। इस दौरान पूजा-पाठ व धार्मिक गतिविधियों को निषेध माना जाता है। अगले दिन 21 जून को रविवार सुबह 10 बजकर 24 मिनट से सूर्य ग्रहण काल शुरू होगा, जो दोपहर 01 बजकर 48 मिनट बजे तक रहेगा। इसी समय सूतक काल भी समाप्त होगा।
उन्होंने बताया कि 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस व सूर्य ग्रहण एक साथ पड़ रहे हैं। कोरोना महामारी के चलते पहले ही योग की कक्षाएं प्रभावित चल रही हैं। अब सूर्य ग्रहण के कारण योग दिवस पर भी असर पड़ेगा। माना जा रहा है कि सुबह से दोपहर तक ग्रहण होने के कारण योग कार्यक्रम भी कम जगह ही होंगे। हालांकि योगाचार्य विपिन जोशी व अन्य चुनिंदा योगाचार्यों का कहना है कि वे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये योग कराएंगे।  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here