कल मिलेगी दुनिया को पहली कोरोना वैक्सीन…

रिपोर्ट के मुताबिक 12 अगस्त को दुनिया की पहली कोरोना वायरस वैक्‍सीन रूस में लॉन्‍च होने जा रही है। रूसी अधिकारियों और विशेषज्ञों के दावे के मुताबिक यह दुनिया की पहली कोरोना वैक्सीन होगी। अगर सबकुछ ठीक रहा और वैक्‍सीन को रेगुलेटरी अप्रूवल मिला तो यह दुनिया की पहली प्रमाणिक कोविड-19 वैक्‍सीन होगी। अभी तक किसी देश को वैक्‍सीन बनाने में सफलता नहीं मिली है। रूस ने प्‍लान किया है कि यह वैक्‍सीन सबसे पहले हेल्‍थ वर्कर्स को दी जाएगी, उसके बाद बुजुर्गों को। मॉस्‍को ने कई देशों को भी वैक्‍सीन सप्‍लाई करने की बात कही है। रूस का कहना है कि वह अपने कोरोना टीके का बड़े पैमाने पर उत्‍पादन सितंबर से शुरू कर सकता है।
रूस में कोरोना वैक्सीन को विकसित करने का काम गमलेया रिसर्च इंस्टीट्यूट की तरफ से किया जा रहा है। यह संस्थान रूस के स्वास्थ्य मंत्रालय के अधीन है। रिसर्चर्स का दावा है कि वैक्‍सीन में जो पार्टिकल्‍स यूज हुए हैं, वे खुद को रेप्लिकेट (कॉपी) नहीं कर सकते। रिसर्च और मैनुफैक्‍चरिंग में शामिल कई लोगों ने खुद को इस वैक्‍सीन की डोज दी है। कुछ लोगों को वैक्‍सीन की डोज दिए जााने पर बुखार आ सकता है जिसके लिए पैरासिटामॉल के इस्‍तेमाल की सलाह दी गई है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here