नेपाल संसद हो गई भंग

चंपावत। पड़ोसी देश नेपाल में राजनीतिक उथल-पुथल पर भारतीय सुरक्षा एजेंसियां नजर रखे हुए हैं। नेपाल संसद भंग होने से नेपाल में राजनीतिक अस्थिरता और तनाव का माहौल है। भारतीय खुफिया एजेंसियों को भी अलर्ट रहने के निर्देश दिए हैं।
नेपाल में भारत विरोध और चीन के साथ नजदीकी के बाद से ही राजनीतिक हलचल तेज हो गई थी। गत रविवार को प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली सरकार की सिफारिश पर राष्ट्रपति द्वारा सदन भंग करने से नेपाल में हालात अस्थिर हो गए हैं।
पीएम ओली और प्रचंड के समर्थक सड़क पर उतर आए हैं। यहां तक कि राष्ट्रपति के खिलाफ लोग प्रदर्शन करने लगे हैं। ऐसे हालात में भारतीय सुरक्षा और खुफिया एजेंसियां स्थिति पर नजर रखे हुए हैं। सीओ विपिन चंद्र पंत ने बताया कि नेपाल के मौजूदा हालात पर फिलहाल उच्च स्तर पर कोई निर्देश नहीं मिले हैं, लेकिन स्थानीय स्तर पर सुरक्षा एजेंसियों को नेपाल के सीमावर्ती क्षेत्रों में हालात पर नजर रखने के निर्देश दिए गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here