हल्द्वानी। बनभूलपुरा में हिंसा भड़कने के बाद पुलिस ताबड़तोड़ एक्शन कर रही है। सारे सीसीटीवी फुटेज खंगाले जा रहे हैं और उपद्रवियों की पहचान की जा रही है। अब तक 20 उपद्रवियों की पुलिस ने पहचान कर ली है। वहीं 4 लोगों की गिरफ्तारी भी की गई है। हल्द्वानी में 10 पैरापैरामिलिटरी फोर्स को तैनात किया गया है। इसके अलावा पुलिस की भी तैनात की गई है। सीनियर अधिकारी लगातार स्पॉट पर जाकर लोगों से शांति बनाए रखने की लगातार अपील कर रहे हैं।

बता दें कि हल्द्वानी शहर में धारा 144 लागू की गई है। पूरे क्षेत्र को छावनी में तब्दील किया गया है हल्द्वानी में हुए बवाल के बाद कर्फ्यू लग चुका है। ऐसे में ऊधम सिंह नगर पुलिस और खुफिया एजेंसियां अलर्ट मोड पर है। चौराहों के साथ ही संवेदनशील क्षेत्रों और उत्तर प्रदेश से सटे बॉर्डर पर पुलिस चेकिंग कर रही है। साथ ही संदिग्धों से पूछताछ कर उनका सत्यापन भी किया जा रहा है। वहीं बनभूलपुरा में हिंसा के बाद हालात का जायजा लेने मुख्य सचिव राधा रतूड़ी, डीजीपी अभिनव कुमार और एडीजी लॉ एंड ऑर्डर एपी अंशुमन हल्द्वानी पहुंचे। स्थिति की जानकारी लेने के बाद हल्द्वानी हिंसा में घायल लोगों की स्वास्थ्य स्थिति जानने के लिए राधा रतूड़ी अस्पताल पहुंची।

बता दें कि हमले, पथराव और आगजनी को लेकर शुक्रवार को नैनीताल की डीएम वंदना स‍िंह ने प्रेस कॉन्‍फ्रेंस की। वंदना स‍िंह ने बताया, “होई कोर्ट के आदेश के बाद हल्द्वानी में जगह-जगह अतिक्रमण के खिलाफ कार्रवाई की गई, सभी को नोटिस और सुनवाई के अवसर दिए गए। जहां समय नहीं दिया गया वहां पीडब्ल्यूडी और नगर निगम की ओर से डिमोलिशन अभियान चलाया गया। डीएम ने कहा, “आप वीडियो में देख सकते हैं कि पुलिस बल किसी को उकसा और मार नहीं रहा है या किसी को नुकसान नहीं पहुंचा रहा है।”

कोटद्वार में पुलिस प्रशासन हाई अलर्ट पर…

हल्द्वानी की घटना के बाद कोटद्वार में पुलिस प्रशासन हाई अलर्ट पर है। हर संदिग्ध व्यक्ति पर नजर रखी जा रही है। माहौल खराब ना हो इस पर भी पूरी निगाह रखी जा रही है। पौड़ी जिले के तमाम पुलिस स्टेशनों से थानों से फोर्स को कोटद्वार बुला लिया गया है।

एक-एक दंगाई की पहचान कर कार्रवाई की जाए…

सीएम धामी ने एडीजी कानून व्यवस्था और जिलाधिकारी नैनीताल को घटना के दोषियों के विरूद्ध सख्त कार्यवाही कर क्षेत्र में शान्ति व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि आगजनी और पथराव करने वाले एक -एक दंगाई की पहचान कर उन पर कार्रवाई की जाए। मुख्यमंत्री ने स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि प्रदेश में कानून व्यवस्था  के साथ खिलवाड़ करने वालों  पर सख्त से सख्त करवाई की जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here