चीन से तनाव के बीच सैनिकों का हौसला बढ़ाने अचानक लेह पहुंचे पीएम मोदी

लेह: बॉर्डर पर भारत और चीन की तनातनी के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार की सुबह लद्दाख के लेह पहुंचे गए हैं। जानकारी के मुताबिक, पीएम मोदी लेह में भर्ती उन जवानों से मिलेंगे जो गलवान में हुई हिंसक झड़प में घायल हुए थे। बता दें 15 जून की रात गलवान घाटी में हुई इस हिंसक झड़प में 20 भारतीय जवानों ने अपनी जान गंवा दी थी।
प्रधानमंत्री मोदी यहां की स्थिति की समीक्षा करने के लिए इस दौरे पर गए हैं। यहां सेना के वरिष्ठ अधिकारियों ने उन्हें स्थिति से अवगत कराया। पीएम ने यहां पर सेना, वायुसेना और आईटीबीपी के जवानों से मुलाकात की। उनकी इस यात्रा पर उनके साथ CDS बिपिन रावत भी मौजूद हैं। पीएम मोदी वहां से गलवान घाटी, मतलब जहां चीनी सेना से झड़प हुई थी वहां जाएंगे या नहीं इसकी जानकारी अभी नहीं है।

प्रधानमंत्री के कार्यालय (PMO) की ओर से जारी किए गए बयान के मुताबिक़, फिलहाल पीएम मोदी नीमू के एक फॉरवर्ड लोकेशन पर हैं। जहाँ वो तड़के सुबह ही पहुंच गए थे। यह इलाका सिंध नदी के किनारे पर और जांस्कर रेंज से घिरी हुई बहुत ही दुर्गम जगह है। आपको बता दें कि नीमू पोस्ट समुद्री तल से 11 हजार फीट की ऊंचाई पर मौजूद है, जिसे दुनिया की सबसे ऊंची और खतरनाक पोस्ट में से एक माना जाता है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here