गोपेश्वर: बदरीनाथ धाम क्षेत्र में जमीन बेचने को लेकर हुए विवाद के बाद एक साधु ने साथी साधु के सिर पर हथौड़े से वार कर हत्या कर दी। बदरीनाथ थाना पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है।

जानकारी के मुताबिक साधु दत्तचैतन, निवासी तेलंगाना थाने में पहुंचा और अपने साथी साधु जोशीमठ निवासी बाबा मोहन कृष्णानंद की हत्या करने की जानकारी दी। उसने बताया कि, शव कमरे में ही रखा है। पुलिस टीम दत्तचैतन की निशानदेही पर बाबा काली कमली धर्मशाला पहुंची और शव को कब्जे में ले लिया।पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पंचनामा भरा और पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया।

दत्तचैतन ने पुलिस को बताया कि, उन्होंने कुछ समय पहले गोपेश्वर के पास मंडल में आश्रम के लिए दो नाली भूमि खरीदी थी। इसी जमीन को लेकर दोनों में विवाद चल रहा था। सोमवार रात को करीब साढ़े आठ बजे हत्यारोपी साधु ने अपने हिस्से की जमीन को बेचने की बात कही, जिसको लेकर दोनों में फिर विवाद शुरू हो गया। विवाद इतना बढ़ गया कि दत्तचैतन ने हथौड़े से बाबा सुनकरा रामदास के सिर पर वार कर दिया। जिससे उसकी मौत हो गई। उसने शव को कंबल में लपेटकर अपनी चारपाई के नीचे रख दिया।

बता दें कि बदरीनाथ धाम में वर्तमान में लगभग 120 साधू-संत मौजूद हैं। अधिकांश साधू बदरीनाथ धाम के आस्था पथ के किनारे भिक्षावृत्ति करते हैं, जबकि कुछ साधुओं की धाम में धर्मशालाएं व कुटिया हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here