राहुल भारतीय नहीं, विदेशी नागरिक!

 फिर गरमाया विवाद

  • राहुल की ब्रिटिश नागरिकता के विवाद पर ऐक्शन में केंद्र, कांग्रेस अध्यक्ष को भेजा नोटिस
  • गृह मंत्रालय ने नोटिस भेजकर राहुल से 15 दिन के भीतर तथ्य प्रस्तुत करने को कहा 
  • भाजपा नेता सुब्रमण्यन स्वामी ने भी केंद्र से की थी राहुल की नागरिकता को लेकर शिकायत 
  • अमेठी लोकसभा सीट से निर्दलीय प्रत्याशी ने भी राहुल की नागरिकता को लेकर उठाए थे सवाल 

नई दिल्ली। गृह मंत्रालय ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी नोटिस भेजकर उनकी विदेशी नागरिकता के सवाल पर उनसे जवाब मांगा है। गृह मंत्रालय ने भाजपा नेता सुब्रमण्यन स्वामी की चिट्ठी के बाद राहुल को नोटिस जारी किया है। राहुल को 15 दिनों के अंदर नोटिस का जवाब देना है। 
गौरतलब है कि स्वामी ने अपने पत्र में राहुल के ब्रिटिश नागरिक होने का दावा किया है।  लोकसभा चुनाव में अमेठी से निर्दलीय चुनाव लड़ रहे ध्रुव लाल ने भी रिटर्निंग ऑफिसर से शिकायत की थी कि राहुल ने ब्रिटिश नागरिकता ने ली थी और इसलिए उनका नामांकन रद्द किया जाए। निर्वाचन अधिकारी ने राहुल के नामांकन की जांच कर इसे वैध बताया था। 
स्वामी गृह मंत्रालय को राहुल की नागरिकता के खिलाफ दो बार पत्र लिख चुके हैं। 21 सितंबर 2017 को भी स्वामी ने इस बारे में एक शिकायत की थी। स्वामी ने 29 अप्रैल 2019 को भी पत्र लिखा। स्वामी ने अपने पत्र में राहुल के ब्रिटिश नागरिक होने का दावा किया है।
सुब्रमण्यन ने अपनी शिकायत में दावा किया है कि वर्ष 2003 में ब्रिटेन में कंपनी का रजिस्ट्रेशन हुआ था। इस कंपनी का पता 51 साउथगेट स्ट्रीट, विंचेस्टर, हैंपशायर एस O23 9 ईएच है और राहुल इसके एक निदेशक और सचिव थे। स्वामी ने यह भी दावा किया है कि कंपनी के वार्षिक रिटर्न में राहुल की जन्मतिथि 19-06-1970 अंकित हैं और नागरिकता ब्रिटिश बताई गई है। 17 फरवारी 2009 को कंपनी को बंद करने के समय भी राहुल की नागरिकता ब्रिटिश बताई गई है। गृह मंत्रालय ने स्वामी की इस शिकायत के आधार पर राहुल गांधी को अपना पक्ष रखने और 15 दिन के भीतर इसका जवाब मांगा है। केंद्र सरकार में निदेशक (नागरिकता) बीसी जोशी ने राहुल को यह नोटिस जारी किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here