इस बार केमिस्ट्री का नोबेल प्राइज दो महिला वैज्ञानिकों के नाम!

  • फ्रांसीसी मूल की प्रो. इमैनुएल कारपेंतिए और अमेरिका की वैज्ञानिक जेनिफर डौडना को जेनेटिक सीजर की खोज के लिए मिलेगा नोबेल पुरस्कार

स्टॉकहोम। स्वीडन की नोबेल कमेटी ने आज बुधवार को दो महिला वैज्ञानिकों इमैनुएल कारपेंतिए (फ्रांसीसी मूल की प्रोफेसर) और जेनिफर डौडना (अमेरिका) को रसायन का नोबेल पुरस्कार देने का ऐलान किया है। दोनों वैज्ञानिकों ने जेनेटिक सीजर की अहम खोज की है। इसके जरिए जानवरों, पौधों, माइक्रोऑर्गेनिज्म के डीएनए में बदलाव कर गंभीर रोगों का इलाज संभव हो सकेगा। इससे पहले 5 अक्टूबर को मेडिसिन और 6 अक्टूबर फिजिक्स के नोबेल अवॉर्ड का ऐलान हो चुका है।
जीन टेक्नोलॉजी में अहम योगदान : महिला वैज्ञानिक कारपेंतिए और डौडना ने जीन टेक्नोलॉजी के लिए अहम टूल CRISPR/Cas9 विकसित किया है। इसे उन्होंने जेनेटिक सीजर्स नाम दिया है। इससे जानवरों, पौधों और सूक्ष्मजीवों तक के डीएनए में बदलाव किए जा सकेंगे। इससे कैंसर समेत कई गंभीर और आनुवांशिक बीमारियों का इलाज होने की संभावनाओं के द्वार खुल गये हैं। कारपेंतिए बर्लिन स्थित मैक्स प्लांक यूनिट फॉर साइंस ऑफ पेथोजंस की डायरेक्टर हैं और डौडना यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया में कार्यरत हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here