उत्तराखंड : तीन समलैंगिक किशोरियों ने एक साथ जान देने की ठानी, एक झील में कूदी

इनसे मिलो…

  • नैनीताल की दो किशोरियां कर रही थीं भवाली की लड़की के साथ रहने की जिद 
  • पुलिस ने मौके पर पहुंचकर डूबती किशोरी को बचाया, तीनों परिजनों के सुपुर्द की

नैनीताल। यहां ठंडी सड़क पर शनिवार दोपहर तीन समलैंगिक किशोरियों के बीच एक साथ रहने को लेकर विवाद हो गया और तीनों ने झील में कूदकर जान देने का फैसला कर लिया। इसके बाद एक किशोरी ने झील में छलांग लगा दी।
सूचना पर आनन फानन में पहुंचे पुलिसकर्मियों ने डूबी किशोरी को किसी तरह झील से निकाला। पूछताछ में मामला समलैंगिकता का निकला। तल्लीताल के थानाध्यक्ष विजय मेहता के मुताबिक चीता पुलिस के जवान शिवराज सिंह राणा को सूचना मिली कि ठंडी सड़क पर पाषाण देवी मंदिर के पास तीन किशोरियां आत्महत्या करने को लेकर बातचीत कर रही हैं।
इस पर चीता पुलिस के जवान मौके पर पहुंचे। पुलिस के पहुंचने से कुछ ही समय पहले एक किशोरी झील में कूद गई थी, जिसे पुलिस कर्मियों ने स्थानीय लोगों की मदद से बचा लिया। थानाध्यक्ष मेहता ने बताया कि पूछताछ में पता चला कि तीनों किशोरियां समलैंगिक हैं। इनमें दो नैनीताल और एक भवाली निवासी हैं। किशोरियों ने बताया कि वह तीनों आपस में एक-दूसरे से प्रेम करती हैं।
नैनीताल की दोनों किशोरियों में भवाली की किशोरी के साथ रहने को लेकर विवाद चल रहा था। सहमति न बनने पर तीनों ने झील में कूदकर जान देने का फैसला किया और ठंडी सड़क पर आ गईं। थानाध्यक्ष ने बताया कि किशोरियों को समझा बुझाकर उनके परिजनों के सुपुर्द कर दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here