उत्तराखंड : प्रवासी बच्चों को बिना प्रमाणपत्र के स्कूलों में मिलेगा प्रवेश

  • उत्तराखंड पहुंचे 4000 से अधिक प्रवासी बच्चे, और बढ़ सकती है उनकी संख्या

देहरादून। कोरोना के बढ़ते मामलों और लॉकडाउन की वजह से अन्य राज्यों से बड़ी संख्या में प्रवासी उत्तराखंड लौटे हैं। इनके साथ उनके बच्चे भी हैं। शिक्षा निदेशक आरके कुंवर के मुताबिक प्रवासियों के साथ लौटे बच्चों का सर्वे कराया जा रहा है। विभागीय अधिकारियों को यह आदेश दिया गया है कि प्रवासी बच्चों को बिना प्रमाणपत्र के स्कूलों में एडमिशन दिया जाए।
बाल विकास विभाग के मुताबिक छह साल तक के करीब 4000 से अधिक बच्चे उत्तराखंड पहुंचे हैं। वहीं छह से ज्यादा साल के बच्चों का शिक्षा विभाग सर्वे करा रहा है। बाल विकास विभाग के उपनिदेशक एसके सिंह के अनुसार प्रवासी बच्चों के लिए आंगनबाड़ी केंद्रों के माध्यम से राशन पहुंचाया जा रहा है। उनके टीकाकरण के साथ ही उन्हें आंगनबाड़ी केंद्रों से भी जोड़ा जा रहा है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here