किसानों को रौंदने वाली थार में ही था कैबिनेट मंत्री का बेटा!

खुल गई बाप-बेटे के झूठ की पोल

  • एसआईटी को मिला सबूत, सीसीटीवी फुटेज में जीप में बैठते हुए दिखाई दिया आशीष मिश्र
  • लखीमपुर खीरी कांड में तीन दिन की पुलिस रिमांड पर रहेगा केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र का बेटा

लखनऊ। लखीमपुर हिंसा मामले में एसआईटी के हाथ बड़ा सबूत हाथ लगा है। जिससे बाप-बेटे के झूठ की पोल खुल गई है। पुलिस ने घटनास्थल के पास से दो दुकानों के डीवीआर जब्त किए थे। सूत्रों के मुताबिक तिकुनिया में हुई हिंसा के समय केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा का आरोपी बेटा आशीष घटनास्थल पर ही था। उस वक्त उसने सफेद शर्ट पहन रखी थी।
एसआईटी को मिले सीसीटीवी में वह दिख भी रहा है। पुलिस ने इसी फुटेज के आधार पर आशीष को गिरफ्तार किया है। जिस थार जीप से किसानों को कुचला गया था, उसमें आरोपी आशीष की तरह सफेद शर्ट पहने हुए एक व्यक्ति बैठा दिख रहा है। हालांकि हिंसा के बाद दावा किया गया था कि जीप ड्राइवर हरिओम चला रहा था और उसने सफेद रंग की शर्ट पहन रखी थी। उसकी किसानों ने पीट-पीटकर हत्या कर दी थी, लेकिन ड्राइवर हरिओम का शव पीले रंग की धारीदार शर्ट में बरामद हुआ था। पुलिस ने एक लाइसेंसी राइफल और पिस्टल को भी जब्त किया है, जिसे फॉरेंसिक जांच के लिए भेजा गया है। ये दोनों असलहे आशीष मिश्रा के नाम हैं। एक मोबाइल भी जब्त किया गया है। लखीमपुर खीरी के तिकुनिया में तीन अक्तूबर को हुए बवाल में केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र का बेटा आशीष तीन दिन की पुलिस रिमांड पर रहेगा। सीजेएम कोर्ट ने पुलिस को आशीष की तीन दिन की रिमांड दी है।
पुलिस अब पूछताछ के लिए आशीष मिश्र को 12 अक्तूबर को अपनी हिरासत में लेगी। आशीष को पहले ही 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया है। जांच में सहयोग न करने पर पर्यवेक्षण समिति ने 14 दिन की कस्टडी मांगी थी, जिस पर अदालत में तीन दिन की रिमांड दी है। तीन दिन की इस पुलिस रिमांड में आशीष के साथ एक वकील रह सकता है। लेकिन, वो इतनी दूरी पर होगा, जो उनकी बातें न सुन सके।इसके अलावा पुलिस को थर्ड डिग्री टॉर्चर के लिए मना किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here