कंगना : मुंबई में बवाल, शिवसेना के कार्यकर्ताओं के सामने डटे करणी सेना और आरपीआई के लोग

  • अपना आफिस तोड़े जाने पर कंगना ने शिवसेना से कहा- याद रख बाबर, यह मंदिर फिर बनेगा

मुंबई। आज बुधवार को अभिनेत्री कंगना रनौत यहां पहुंच गई हैं। एयरपोर्ट पर सुरक्षा के सख्त इंतजाम किए गए हैं। शिवसेना के कई समर्थक हाथों में काले झंडे और बैनर लेकर पहुंचे हैं। ये लोग कंगना के खिलाफ नारेबाजी कर रहे हैं तो दूसरी ओर उनके समर्थक में कई संगठन सामने आए हैं। रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया के समर्थक भी एयरपोर्ट पर मौजूद हैं।
उनकी सुरक्षा में मुंबई पुलिस के फील्ड मार्शल, सीआईएसएफ और मुंबई पुलिस के 24 से ज्यादा जवान तैनात किए गए हैं। आरपीआई के कार्यकर्ता एयरपोर्ट पर उनके समर्थन में लगातार नारेबाजी कर रहे हैं। कंगना के साथ उनकी बहन भी हैं।

इससे पहले आज बुधवार सुबह बीएमसी ने अवैध निर्माण को लेकर कंगना के ऑफिस पर बुलडोजर चलाया। सुबह 10.30 बजे शुरू हुई यह कार्रवाई दोपहर 12.40 बजे तक चली। इस कार्रवाई के दौरान ऑफिस के बाहरी हिस्से से बालकनी और अंदर के बने निर्माण को बुरी तरह से तोड़ा गया है। इस दौरान आसपास रहने वाले कुछ लोगों ने इस तोड़फोड़ का विरोध भी किया। हालांकि बॉम्बे हाईकोर्ट ने बीएमसी की कार्रवाई पर अगले आदेश तक रोक लगा दी है। मामले में अगली सुनवाई गुरुवार 3 बजे होगी।
इस बीच राकांपा प्रमुख शरद पवार ने इस कार्रवाई को गलत बताया। उन्होंने कहा कि मुंबई में और भी अवैध निर्माण हैं और यह कार्रवाई गैर जरूरी है। यह देखना होगा कि बीएमसी ने यह फैसला क्यों लिया। इस कार्रवाई से कंगना को बोलने का मौका मिला है। भाजपा नेता आशीष शेलार ने इसे बदले की भावना से की गई कार्रवाई करार दिया है।

कंगना ने अपने आफिस तोड़ने की कार्रवाई पर लगातार 5 ट्वीट किए। उन्होंने कहा, ‘यह एक इमारत (ऑफिस) नहीं, राम मंदिर है, आज वहां बाबर आया है। उन्होंने कहा कि दुश्मनों ने साबित किया कि मुंबई को पीओके कहकर गलती नहीं की।’
दरअसल कंगना ने मुंबई की तुलना पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) से की थी, जिसके बाद विवाद खड़ा हो गया था। केंद्र ने उन्हें वाई कैटेगरी की सुरक्षा दी है, इस दौरान 11 सुरक्षाकर्मी हमेशा उनके साथ रहेंगे। उधर बीएमसी की कार्रवाई के खिलाफ कंगना को हाईकोर्ट से राहत मिल गई। कोर्ट ने कार्रवाई पर रोक लगा दी। अब अगली सुनवाई कल गुरुवार दोपहर 3 बजे होगी।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here