UKSSSC Paper Leak Case : नकल माफिया पर STF का शिकंजा, जब्त की 17.5 करोड़ की संपत्ति

देहरादून। उत्तराखंड में अब नकल माफियाओं के खिलाफ नकेल कसनी शुरू हो गई है। उत्तराखंड स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने बड़ी कार्रवाई करते हुए दो गैंगस्टरों की 41 लाख रुपए की संपत्ति को जब्त किया है। UKSSSC Paper Leak Case में उत्तराखंड एसटीएफ ने अभीतक 64 लोगों को गिरफ्तार किया है। जिसमें से 12 के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट में कार्रवाई हुई है। जिनकी करीब 17.49 करोड़ रुपए की संपत्तियां जब्त की गई है।

इनके अलावा 12 अन्य आरोपितों की संपत्ति जब्त करने की कार्रवाई भी चल रही है। उनकी संपत्ति का आकलन किया जा रहा है। उत्तराखंड एसटीएफ ने जानकारी देते हुए बताया कि यूकेएसएसएससी पेपर लीक केस में बीती पांच अक्टूबर को धामपुर के पहाड़ी दरवाजा निवासी ललित राज शर्मा की जिला प्रशासन ने 23 लाख रुपए की चल संपत्ति को जब्त किया था, साथ ही लखनऊ प्रशासन के साथ मिलकर पुलिस ने योगेश्वर राव निवासी गोमती नगर लखनऊ की 18 लाख रुपए की चल अचल संपत्ति को भी जब्त किया गया है।

उत्तराखंड एसटीएफ ने बताया कि पेपर लीक केस में गैंगस्टर के मुकदमे में कुल 13 आरोपी है, जिनके खिलाफ पिछले दिनों कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की जा चुकी है। अब तक हाकम सिंह की करीब पौने छह करोड़, अंकित रमोला की 40 लाख, चंदन सिंह मनराल की 8 करोड़, जयजीत दास की 51 लाख, दीपक शर्मा की 40 लाख, मनोज जोशी की 11 लाख, केंद्र पाल की 52 लाख, विपिन बिहारी की 11.47 लाख और शशिकांत की 90 लाख रुपए की संपत्तियों को जब्त किया जा चुका है।

बता दें कि यूकेएसएसएससी की स्नातक स्तरीय परीक्षा के पेपर लीक मामले में 22 जुलाई 2022 को मुख्यमंत्री धामी के निर्देश पर मुकदमा दर्ज हुआ था। इसके बाद एसटीएफ ने 24 जुलाई 2022 से गिरफ्तारियों का दौर शुरू किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here