आईएनएस विक्रमादित्य में लगी आग में नौसेना के अफसर की मौत

दुखद हादसा

  • जलपोत पर मौजूद क्रू फौरन आग बुझाने में जुटा, कुछ ही देर में आग पर पाया काबू 
  • इस दौरान एक अधिकारी धुएं के चलते हुए अचेत और बाद में दम तोड़ा

नई दिल्ली। देश के सबसे बड़े विमानवाहक पोत और नौसेना के गौरव आईएनएस विक्रमादित्य पर आज आग लगने से नौसेना के एक अफसर की मौत हो गई। आग उस समय लगी जब यह पोत कर्नाटक के कारवाड बंदरगाह की ओर जा रहा था। भारतीय नौसेना की ओर से बताया गया है कि लेफ्टिनेंट कमांडर डीएस चौहान के नेतृत्व में पोत पर लगी आग को बुझाने का प्रयास किया जा रहा था। क्रू के फौरन ऐक्शन की बदौलत पोत को ज्यादा नुकसान नहीं हुआ। हालांकि इस दौरान आग और धुएं के चलते लेफ्टिनेंट कमांडर अचेत हो गए।
नौसेना के अधिकारी को फौरन कारवाड स्थित नेवल हॉस्पिटल ले जाया गया लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका। हालांकि कुछ समय बाद ही शिप के क्रू ने आग पर काबू पा लिया। अच्छी बात यह रही कि शिप की लड़ाकू क्षमता को कोई गंभीर नुकसान नहीं पहुंचा है। नौसेना ने ‘विक्रमादित्य’ में लगी आग की घटना की जांच के लिए ‘बोर्ड ऑफ एन्क्वॉयरी’ के आदेश भी दे दिए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here