हरदा ने महाराज के बहाने सरकार पर साधा निशाना

बोले, मैं खुद पब्लिक के बीच जाने से बच रहा हूं 

देहरादून। पूर्व सीएम हरीश रावत ने कोरोना पाजिटिव पाये गये कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज के बहाने सरकार को निशाने पर लिया है। रावत ने कहा है कि एक जिम्मेदार व्यक्ति होने के नाते कैसे वह पूरे समाज को खतरे में डाल सकते हैं।
रावत का कहना है कि कोरोना से व्यक्ति, अनजाने या दूसरे की गलती से भी संक्रमित हो सकता है। ऐसा सार्वजनिक जीवन के लोगों के साथ अधिक होने की आशंका रहती है। इसलिए वे स्वयं सार्वजनिक स्थलों पर जाने से बच रहे हैं। सतपाल महाराज के मामले को लेकर राज्य सरकार की खिंचाई करते हुए हरीश रावत ने कहा है कि उन्होंने स्वयं अपना आवागमन, अपने स्वभाव के विपरीत प्रतिबंधित कर दिया है। ताकि लोगों के बीच जाने की उनकी यह आदत किसी के लिए मुसीबत न बने। उन्होंंने कहा है कि लोगों के बीच जाना, बैठकें आयोजित करना, उनकी आदत के साथ ही मजबूरी भी है। मगर यदि उससे, दूसरों पर मुसीबत आ सकती है, तो हमें खुद ही सावधान रहना चाहिये।
उन्होंने कहा है कि उत्तराखंड सरकार के महत्वपूर्ण व्यक्तियों ने ऐसी चूकें, एक से अधिक बार की हैं। यह नहीं भूल सकते हैं कि यह चर्चित संक्रमण, उत्तराखंड में पहला कम्युनिटी संक्रमण है और इसका दोष, जाने-अनजाने में कुछ भी हो, सरकार के ऊपर आ रहा है। रावत ने कहा है कि वे सरकार के इस तर्क को नहीं समझ पा रहे हैं कि मंत्रीलो-रिस्ककैटेगरी में आते हैं। सामान्य व्यक्ति 2-4 को संक्रमित कर सकता है, तो वह हाई रिस्क है और जो व्यक्ति मंत्री के रूप में सैंकड़ों लोगों को संक्रमित कर सकता है, वो लो रिस्क कैसे है। उन्होने कहा है कि इस समस्त प्रकरण में जो तथ्य सामने आ रहे हैं, जो जानकारियां छन-छन करके सामने आ रही हैं, उनको लेकर राज्य के लोगों की चिंताएं बढ रही हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here