छुट्‌टी पर महाभारत : इंजीनियर ने कहा- ओवैसी नकुल थे और भागवत शकुनी मामा!

  • सीईओ ने उसी अंदाज में दिया जवाब, कहा- रविवार को काम करें, अहंकार नष्ट होगा

मालवा। मध्य प्रदेश के आगर मालवा जिले में रविवार की छुट्टी के लिए मनरेगा में तैनात इंजीनियर ने अपने आला अफसर को एक अजीब पत्र लिखा है। जनपद पंचायत सुसनेर के इस इंजीनियर ने लिखा कि उन्हें अपने पिछले जन्म का आभास हुआ है। हैदराबाद सांसद असदुद्दीन ओवैसी उनके पिछले जन्म के सखा नकुल थे, वहीं संघ प्रमुख मोहन भागवत शकुनी मामा थे। इंजीनियर ने इस पत्र को जनपद पंचायत के ऑफिशियल ग्रुप में डाला है। इसका जवाब भी जनपद सीईओ ने उन्हीं की भाषा में दिया है। उन्होंने इंजीनियर को रविवार को ऑफिस में काम करने का आदेश दिया है। उन्होंने लिखा है कि रविवार को काम करने से आपका अवकाश रूपी अहंकार खत्म होगा। सोशल मीडिया ग्रुप की ये चैटिंग अब सामने आई है।

सुसनेर जनपद में पदस्थ उपयंत्री राजकुमार यादव ने लिखा – रविवार को वे जनपद के किसी भी कार्य में उपस्थित नहीं हो पाएंगे, क्योंकि उन्हें कुछ दिनों पहले आभास हुआ है कि आत्मा अमर होती है। साथ ही, पिछले जन्म का भी आभास हुआ है। सांसद असदुद्दीन ओवैसी उनके पिछले जन्म के सखा नकुल थे और मोहन भागवत शकुनी मामा, इसलिए अपने जीवन को जानने के लिए गीता पाठ करना चाहता हूं। अपने अंदर के अहंकार को मिटाने के लिए घर-घर जाकर भीख मांगूगा, चूंकि यह उनकी आत्मा का सवाल है, इसलिए उन्हें रविवार का अवकाश दिया जाए।
पत्र पढ़ने के बाद जनपद पंचायत सुसनेर के सीईओ पराग पंथी ने भी इंजीनियर की भाषा में ही जवाब लिख दिया।

उन्होंने लिखा- ‘प्रिय उपयंत्री, आप अपना अहंकार मिटाना चाहते हैं, यह बहुत प्रसन्नता का विषय है। इसमें हमारा अकिंचन सहयोग भी साधक हो सकता है। यह विचार ही मन में हर्ष उत्पन्न करता है। व्यक्ति प्रायः अहंकार से वशीभूत होकर यह सोचता है कि वह अपने रविवार को अपनी इच्छा से बिता सकता है। इस अहंकार को इसके बीज रूप में नष्ट करना आपकी उन्नति के लिए अपरिहार्य है। अतः आपकी आत्मिक उन्नति की अभिलाषा को दृष्टिगत रखते हुए आपको आदेशित किया जाता है कि आप प्रत्येक रविवार कार्यालय में उपस्थित रहकर कार्य करें, जिससे रविवार को अवकाश मनाने के आपके अहंकार का नाश हो सके।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here