Cyclone Remal: तेज रफ्तार से बंगाल की तरफ बढ़ रहा चक्रवाती तूफान रेमल! इन राज्यों पर होगा बड़ा असर

कोलकाता। पूर्वोत्तर और दक्षिण भारत प्रचंड गर्मी से जूझ रहा है। कई शहरों तापमान में 48 डिग्री सेल्सियस के पार पहुंच गया है। दिल्ली एवं पश्चिमी उत्तर प्रदेश समेत पांच राज्यों में पिछले दो हफ्ते से प्रचंड गर्मी का कहर जारी है। हालांकि, बंगाल की खाड़ी के ऊपर कम दबाव का क्षेत्र और तेज होने की संभावना है,जिससे चक्रवात तूफान की उम्मीद जताई जा रही है। इस बार भी मौसम विभाग (IMD) ने 26 मई को चक्रवाती तूफ़ान रिमल के आने की बात कही है। लेकिन इस बार तूफान चुनाव के दौरान पश्चिम बंगाल में तांडव मचा सकता है। मौसम विभाग के मुताबिक़, चक्रवाती तूफान रिमल 26 मई को 102 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ़्तार से बांग्लादेश से टकराएगा।

भारतीय मौसम विभाग ने जानकारी दी कि यह तूफान 25 मई की शाम तक बंगाल की खाड़ी से टकराने की संभावना। रविवार को चक्रवात की वजह से 102 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से हवा चल सकती है। आईएमडी ने मछुआरों को 24 मई तक दक्षिण बंगाल की खाड़ी में, 26 मई तक मध्य बंगाल की खाड़ी में और 24 मई से 27 मई की सुबह तक उत्तरी बंगाल की खाड़ी में न जाने की सलाह दी है।

इन राज्यो में होगी झमाझम बारिश…

आईएमडी ने 26 और 27 मई को पश्चिम बंगाल, उत्तरी ओडिशा, मिजोरम, त्रिपुरा और दक्षिण मणिपुर में भारी बारिश की आशंका है।

पिछले साल बंगाल की खाड़ी में आया था चक्रवाती तूफान ‘मोचा’…

बता दें कि भारतीय समुद्र में आमतौर पर प्री मॉनसून और मॉनसून के समय तूफान आते हैं। ये तूफान अरब सागर या बंगाल की खाड़ी के ऊपर बनते हैं। इस साल प्री मॉनसून यानी अप्रैल महीने से जून के बीच (जब तक भारत में मॉनसून मजबूत नहीं हो जाता) तक तूफान आने के आसार कम थे। हालांकि मॉनसून में इस बार जमकर तूफान आने वाले हैं। बंगाल की खाड़ी के ऊपर पिछले साल 2023 में एक अत्यंत भीषण चक्रवाती तूफान ‘मोचा’ आया था। लंबी समुद्री यात्रा के बाद तूफान म्यांमार की ओर बढ़ गया और 14 मई 2023 को सितवे के पास तट को पार कर गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here