उत्तराखंड : एलईडी लाईट निर्माण में लगे स्वयं सहायता समूहों की चमकी किस्मत!

लिखी जा रही परिवर्तन की पटकथा

  • मुख्यमंत्री ने सभी स्वयं सहायता समूहों के लिए की 50-50 हजार के रिवॉल्विंग फण्ड की घोषणा
  • हमारी सरकार का अगला फोकस अपनी सभी मां-बहनों के सिर से घास-लकड़ी का बोझा उतारना
  • सीएम सौर स्वरोजगार योजना में उत्तरकाशी जिले के 11 उद्यमियों को ‘परियोजना आवंटन पत्र’ बांटे
  • कहा, मंदिरों के कपाट खुलने पर साज सज्जा हेतु स्वयं सहायता समूहों की ली जाएगी मदद

देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने आज सोमवार को मुख्यमंत्री आवास में राष्ट्रीय ऊर्जा संरक्षण दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्री सौर स्वरोजगार योजना के अन्तर्गत जनपद उत्तरकाशी के 11 उद्यमियों को ‘परियोजना आवंटन पत्र’ वितरित किए। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने एलईडी ग्राम लाईट योजना के अंतर्गत प्रशिक्षण प्राप्त स्वयं सहायता समूहों की महिलाओं को ‘एनर्जी वॉरियर्स’ के रूप में सम्मानित किया। इसके साथ ही ‘ऊर्जा दक्ष ग्राम’ के प्रधानों को भी प्रशस्ति पत्र वितरित कर सम्मानित किया।

कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने सभी स्वयं सहायता समूहों को ऊर्जा संरक्षण दिवस की बधाई देते हुए कहा कि हमारा अगला फोकस अपनी मां-बहनों के सिर से घास-लकड़ी का बोझा उतारना है। इस दिशा में कार्य किया जा रहा है। उन्होंने अधिकारियों को भी इस दिशा में विचार कर योजनाएं तैयार करने के निर्देश दिए। उन्होंने कार्यक्रम में जनपदों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से उपस्थित ग्राम प्रधानों एवं स्वयं सहायता समूहों से इस सम्बन्ध में अपने सुझाव देने का अनुरोध किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here