शिक्षक खंडूड़ी के लिए देवदूत बने मुख्यमंत्री

  • घायल शिक्षक को बचाने अपना हेलिकॉप्टर भेजा
  • ऐसे ही कई बार बचा चुके है अपने प्रदेशवासियों को

पौड़ी में लोकसभा चुनाव प्रचार की गहमागहमी है। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत पौड़ी में एक विशाल जनसभा को संबोधित कर रहे हैं। इसी बीच उनके फोन पर खबर मिलती है कि गोपेश्वर में सड़क हादसे में एक शिक्षक बुरी तरह घायल हो गया। सीएम त्रिवेंद्र रैली के बीच में रुकते हैं, तुरंत अपने हेलिकॉप्टर को रेस्क्यू के लिए भेजते हैं और इस तरह सड़क हादसे में घायल एक शिक्षक की जिंदगी बच जाती है। ये वाकया फिर याद दिलाता है, कैसे सीएम त्रिवेंद्र उत्तराखंड की जनता के लिए चुनावी व्यस्तता के बावजूद दरियादिल रहते हैं।
दरअसल सीएम त्रिवेंद्र पौड़ी में भाजपा प्रत्याशी तीरथ सिंह रावत के पक्ष में प्रचार कर रहे थे, इस दौरान जब वह विशाल जनसभा को संबोधित कर रहे थे अचानक उनके फोन पर मदद की गुहार आती है। बताया जाता है कि राजकीय इंटर कॉलेज गोपेशवर में तैनात शिक्षक अनूप खंडूड़ी एक सड़क हादसे में बुरी तरह घायल हो गए हैं। चुनावी आचार संहिता के चलते रेस्क्यू और आवागमन के लिए साधनों की सीमितता है। इस स्थित में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने तुरंत फैसला लेते हुए अपना हेलिकॉप्टर घायल शिक्षक के रेस्क्यू के लिए भेजा, और उसी हेलिकॉप्टर के जरिए घायल शिक्षक को गोपेश्वर से श्रीनगर बेस अस्पताल लाया गया। सीएम त्रिवेंद्र के इस त्वरित फैसले से एक घायल शिक्षक की जान बचाई जा सकी। सीएम ने डॉक्टरों को शिक्षक के उचित उपचार के भी निर्देश दिए हैं। इसके बाद सीएम त्रिवेंद्र खुद सड़क मार्ग से रवाना हुए।
इससे पहले भी कई बार मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत अपनी दरियादिली दिखा चुके हैं। प्रदेश में कई लोगों के इमरजेंसी रेस्क्यू के सीएम के आदेश पर हेलिकॉप्टर मुहैया करवाया जा चुका है। पहले भी सड़क हादसे मे घायल नागरिक को सीएम खुद अपने काफिले से अस्पताल पहुंचा चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here