अब गडकरी की जुबान फिसली : बोले- मुझे बहुत खुशी है कि कोविड से अनेक लोगों को ऑक्सीजन की कमी के कारण जान गंवानी पड़ी!

प्रयागराज। आज बुधवार को यहां सरस्वती हाईटेक सिटी में ऑक्सीजन प्लांट के उद्घाटन के वर्चुअल कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी की जुबान फिसल गई। गडकरी अपने भाषण में बोल गये- ‘सबसे पहले मुझे बहुत खुशी है कि कोविड से इस समय हमारे देश में अनेक लोगों को ऑक्सीजन की कमी के कारण अपनी जान गंवानी पड़ी।’
इसके बाद गडकरी को जैसे ही अपनी गलती का एहसास हुआ उन्होंने संभलते हुए कहा कि हवा से ऑक्सीजन बनाने की तकनीक है। कोविड में अनुभव हुआ कि किसी को 3 से 4 लीटर तो किसी को 3 मिनट में 20 लीटर ऑक्सीजन की जरूरत होती है। ऐसे में सभी जिलों को ऑक्सीजन के मामले में आत्मनिर्भर होना होगा। हमने अभी 350 टन जियाेलाइट रूस से इंपोर्ट किया है। आगे हम इस मामले में आत्मनिर्भर हों, इसका प्रयास करना होगा। हमारे रोड कंस्ट्रक्शन कांट्रैक्टर ने नैनी में ऑक्सीजन प्लांट लगाने की सोची, यह समाज के लिए हितकारी है।
गडकरी ने कहा कि हमें तीसरी और चौथी वेव की तैयारी अभी से करनी होगी। उन्होंने ‘थिंक फाॅर द बेस्ट, प्रिपेयर फॉर द वर्स्ट’ का मूलमंत्र दिया। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here