फिर होते—होते बचा दूसरा पुलवामा कांड!

सुरक्षा में चूक

  • जम्मू कश्मीर में सीआरपीएफ के काफिले की बस से टकराई कार में विस्फोट 
  • बनिहाल क्षेत्र में जवाहर सुरंग के पास तीन सिलेंडरों से भरी कार से हुआ हमला  
  • हमले के बाद कार का ड्राइवर फरार, बहुत जबरदस्त था धमाका  

जम्मू कश्मीर में फिर पुलवामा कांड होते—होते बचा। जम्मू कश्मीर के बनिहाल क्षेत्र में जवाहर सुरंग के पास सुनसान जगह से गुजर रहे सीआरपीएफ के 40 बसों के काफिले की एक बस के पीछे एक कार ने टक्कर मारी और उसमें बहुत जबरदस्त धमाका हुआ। जिससे सीआरपीएफ की बस का पिछला हिस्सा क्षतिग्रस्त हो गया। हादसे के बार कार का ड्राइवर फरार बताया जा रहा है। हालांकि हमले में सीआरपीएफ के किसी जवान के घायल होने की खबर नहीं है।
घटनाक्रम के अनुसार जम्मू—श्रीनगर राजमार्ग पर बनिहाल क्षेत्र मेें जवाहर टनल के पास सीआरपीएफ की 40 बसों का काफिला गुजर रहा था। हालांकि पुलवामा कांड के बाद सुरक्षा बलों की आवाजाही के दौरान सड़कों पर अन्य वाहनों के प्रवेश पर रोक लगाई जा रही थी और सुरक्षा व्यवस्था भी कड़ी कर दी गई थी। इसके बावजूद राजमार्ग पर पहले से खड़ी एक सेंट्रो कार ने सीआरपीएफ के काफिले की आखिरी बस में टक्कर मारी। इसके बाद कार में जबरदस्त धमाका हुआ जिसकी आवाज कई किमी तक सुनी गई और बस का पिछला हिस्सा क्षतिग्रस्त हो गया। विस्फोट  से किसी जवान के घायल होने की खबर नहीं है। धमाके के बाद कार का चालक फरार बताया जा रहा है। प्रारंभिक जांच के बाद धमाका सिलेंडर का बताया जा रहा है। सही कारणों की तो जानकारी गहन जांच के बाद ही सामने आएगी।
पुलवामा में हुए भयंकर आतंकी हमले के बाद इसी तरह से सीआरपीएफ के काफिले की बस पर हुए हमले से फिर सुरक्षा इंतजामों में चूक सामने आई है। 
सबसे बड़ा सवाल यह उठता है कि सीआरपीएफ का काफिला गुजरने के दौरान जब अन्य सभी वाहनों के वहां से आने—जाने पर रोक लगा दी गई थी तो उस कार को हाईवे पर क्यों आने दिया गया। दूसरा अहम सवाल यह है कि उस कार चालक को यह कैसे मालूम हुआ कि वहां से सीआरपीएफ का काफिला गुजरने वाला है। यह तो भगवान का शुक्र है कि कार घातक विस्फोटकों से नहीं भरी थी जिससे बड़ा हादसा होते—होते टल गया, लेकिन कई बड़े सवाल अपने पीछे छोड़ गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here