11 महीने में ट्रैफिक के 101 नियम तोड़ने का बनाया रिकॉर्ड, पुलिस ने थमाया 5.5 फीट का चालान!

हम नहीं सुधरेंगे

  • बेंगलुरु के एक बुलेट सवार के रवैये को देखकर पुलिस हैरान, क्योंकि एक बार भी नहीं भरा चालान
  • अब बुलेट सवार को 57,200 रुपये का चालान जमा करना पड़ेगा तब मिल पायेगी बुलेट

बेंगलुरू। पुलिस यह देखकर हैरान हो गई कि महज 11 महीनों में बुलेट सवार ने 101 बार ट्रैफिक‍ नियमों का उल्‍लंघन किया, लेकिन एक बार भी न तो चालान भरा न अपनी आदतों में सुधार किया। कुछ लोग नियम तोड़ने में रेकॉर्ड बनाते हैं। बेंगलुरु के एक बुलेट सवार ने भी ऐसा ही किया।
पुलिस ने एल राजेश कुमार (25) को जब एक दिन ट्रैफिक नियम तोड़ने के लिए पकड़ा तो उन्‍हें नहीं पता था कि यह वाला चालान बहुत लंबा साबित होने वाला है क्योंकि 101 नियम तोड़ने के लिए उन्‍हें बुलेट सवार को 5.5 फीट लंबा चालान थमाना पड़ा। राजेश रोज इलेक्‍ट्रॉनिक्‍स सिटी के अपने घर से वाइटफील्‍ड अपने ऑफिस जाते हैं। बुधवार को उन्‍हें पुलिस ने ट्रैफिक लाइट का उल्‍लंघन करने पर पुलिस ने रोका। जब जांच हुई तो पता चला कि उसी दिन उनके छह चालान पहले ही कट चुके थे यह सातवां था, लेकिन बात यहीं नहीं रुकी… जब और जांच चली तो पता चला कि सितंबर 2019 से अब तक राजेश के 94 चालान लंबित थे। उन्‍होंने अब तक कोई चालान नहीं भरा था। दिलचस्‍प बात यह है कि साल 2019 के मध्‍य में ही उन्‍होंने अपनी बाइक खरीदी थी।
अब मामला वरिष्‍ठ अधिकारियों तक पहुंचा और राजेश की बुलेट तो जब्‍त कर ली गई लेकिन उन्‍हें बदले में 57,200 रुपयों का साढ़े पांच फीट लंबा चालान सौंप दिया गया। राजेश ने चालान जमा करने के लिए तीन दिन का समय मांगा है अगर ऐसा नहीं किया तो उन्‍हें कोर्ट में चालान जमाकरके बाइक वापस मिलेगी। राजेश 57,200 का चालान जमा करके शहर में सबसे ज्‍यादा चालान जमा करने वाले शख्‍स बन जाएंगे। फिलहाल यह रेकॉर्ड एक सब्‍जी वाले के नाम है जिसने 15 दिसंबर 2019 में 15,400 रुपयों का चालान भरा था। इस स‍ब्‍जी वाले दो साल में 55 बार नियम तोड़े थे। उन्‍हें भी जो चालान मिला वह 5.1 फीट लंबा था।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here