• चुनाव से पहले होगा जम्मू-कश्मीर का परिसीमन

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और जम्मू-कश्मीर के नेताओं के साथ करीब 23 माह बाद बात हुई। बैठक में आपसी कड़वाहट को दूर करने का प्रयास किया गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह द्वारा जम्मू-कश्मीर को पूर्ण राज्य का दर्जा दिए जाने और जल्द से जल्द विधानसभा चुनाव कराने का वादा किया। बैठक के बाद सभी नेताओं ने सकारात्मक पहल बताया।
नेशनल कॉन्फ्रेंस नेता उमर अब्दुल्ला के एक सवाल के जवाब में प्रधानमंत्री ने कहा कि राज्य के विभाजन के बाद इसमें सात विधानसभा सीटें बढ़ गई हैं, इसलिए चुनाव कराने से पहले परिसीमन कराना जरूरी है। पीडीपी नेता महबूबा मुफ्ती द्वारा अनुच्छेद 370 को हटाने का मामला उठाने पर प्रधानमंत्री ने अदालत के सामने लंबित होने की वजह बताई। कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद द्वारा कश्मीरी पंडितों की घर वापसी की मांग और नेशनल कॉन्फ्रेंस का संविधान के तहत शांतिपूर्ण आंदोलन का वादा किया।
सर्वदलीय बैठक को जम्मू-कश्मीर को विकसित और प्रगतिशील प्रदेश के रूप में विकसित करने के जारी प्रयासों की दिशा में महत्वपूर्ण कदम बताते हुए उन्होंने कहा, ‘हमारी प्राथमिकता जम्मू-कश्मीर में जमीनी स्तर पर लोकतंत्र को मजबूत करना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here